नई दिल्ली/गुवाहाटी| ।

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) गुवाहाटी की उपलब्धियों की सराहना करते हुए कहा है कि संस्थान को आगे बढने के लिए केंद्र से सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। डॉ निशंक ने रविवार को आईआईटी गुवाहाटी में कहा कि इस संस्थान पर पूरे पूर्वोत्तर के राज्यों के विकास की बड़ी जिम्मेदारी है।



उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पूर्वोत्तर राज्यों के विकास के लिए संकल्पित है इसलिए इस क्षेत्र में स्थित इस महत्वपूर्ण संगठन को ढांचागत विकास के लिए जो भी संसाधन की आवश्यकता होगी उसे प्राथमिकता के साथ उपलब्ध कराया जाएगा। केंद्रीय मंत्री ने आईआईटी गुवाहाटी को क्यूएस रैंकिंग में 491वां स्थान हासिल करने तथा युवा संस्थानों की क्यूएस रैंकिंग में इस संस्थान को 79 वां स्थान मिलने पर बधाई दी और कहा कि संस्थान के अध्यापक, विद्यार्थी और शोधकर्ता का वह इसके लिए अभिनंदन करते हैं।



उन्होंने कहा कि आईआईटी गुवाहाटी को एक शीर्ष क्षेत्रीय संस्थान के रूप में विकसित करके पूर्वोत्तर के दुर्गम तथा कठिन भौगोलिक क्षेत्र का उत्कृष्ट विकास का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह संस्थान इस दिशा में अहम भूमिका निभाएगा और न केवल देश की सर्वश्रंष्ठ आईआईटी बनेगा बल्कि विश्व रैंकिंग में भी शीर्ष 200 संस्थाओं में अपनी जगह बनाएगा।