आपने अक्सर महिलाओं के साथ ही जबरदस्ती के किस्से सुने होंगे लेकिन इस देश में महिलाएं पुरुषों के साथ जबरदस्ती करती हैं। ये सब नाईजीरिया की तुआरेक जनजाति में होता है। इस जनजाती की महिलाओं को वो सारे अधिकार हैं, जो आमतौर पर पुरुषों को रहते हैं।




यहां पर महिलाएं न ही घूंघट पहनती है और न ही अपना चेहरा ढंककर रखती हैं। यहां पर पुरुषों को अपना चेहरा ढंककर रखना घूमना पड़ता है। इसके अलावा यहां की महिलाओं को किसी भी पुरुष के साथ शारीरिक संबंध बनाने की आजादी है, वो चाहें तो किसी पुरुष के साथ रेप भी कर सकती है। यहां के पुरुषों को बिल्कुल आजादी नहीं है और उन्हें ये सब सहना पड़ता है।


 
तुआरेक जनजाती की महिलाएं शादी के बाद भी किसी गैर-मर्द से संबंध बना सकती है, लेकिन पुरुष ऐसा नहीं कर सकते। यहां महिलाएं जब चाहें अपनी मर्जी से तलाक ले सकती है। यहां के लड़के जैसे ही बड़े होते हैं, उन्हें ऐसे कपड़े पहनना पड़ता है जिसमें उनका चेहरा और शरीर ढंका हुआ हो।



 
हमारे यहां लड़की पैदा होने पर गम का माहौल सा बन जाता है, लेकिन इस जनजाती में लड़की पैदा होने पर पूरे कस्बे में खुशी का माहौल रहता है। यहां रहने वाले हर लड़के को कुछ भी करने से पहले महिलाओं की इजाजत लेनी पड़ती है। उनकी इजाजत के बिना लड़के कुछ भी नहीं कर सकते।